भगवान् की प्लानिंग - Motivational Story in Hindi

भगवान् की प्लानिंग । Motivational Story in Hindi

“भगवान् की प्लानिंग । Motivational Story in Hindi” :- एक बार की बात है भगवान से उनका सेवक कहता है, भगवान जी आप कई वर्षों से इस मंदिर में एक ही एक जगह खड़े थक गए होंगे । 1 दिन के लिए मैं आपकी जगह मूर्ति बन कर खड़ा हो जाता हूं और आप मेरा रूप धारण कर लीजिए, भगवान जी मान जाते हैं लेकिन एक शर्त रखते हैं, कि जो भी लोग प्रार्थना करने आए तुम बस उनकी प्रार्थना सुन लेना कुछ बोलना नहीं, मैंने उन सभी के लिए Planning कर रखी है । सेवक मान जाता है और भगवान जी सेवक को अपनी जगह खड़ा करके चले जाते हैं ।

सबसे पहले मंदिर में एक Businessman आता है और कहता है कि हे भगवान मैंने नई Factory बनाई है, उसे खूब सफल करना इतना कहकर वह मत्था टेकता है और उसका पर्स वहां गिर जाता है वह बिना पर्स लिए ही चला जाता है | भगवान की जगह खड़ा सेवक यह देखकर बेचैन हो जाता है और सोचता है कि, वह उस बिजनेसमैन को बताएं लेकिन भगवान जी की शर्त की वजह से वह ऐसा नहीं करता ।

इसके बाद मंदिर में एक गरीब आदमी आता है और भगवान से कहता है, हे भगवान घर में खाने के लिए कुछ भी नहीं है ।

“मदद कर मदद कर”

तभी उसकी नजर Businessman के गिरे हुए पर्स पर पड़ती है, वह उसको उठाता है और भगवान का शुक्रिया अदा करते हुए वहां से चला जाता है ।

Read Also :- हमेशा Positive कैसे रहें – How to Stay Positive in Hindi

Read Also :- अपनी Problems को कैसे Overcome करें । Moral Story in Hindi

Watch Now :- जीवन में मेहनत कर भी हम सफल क्यों नहीं हों पाते । Motivational Story in Hindi

उसके बाद एक तीसरा नागरिक आता है वह एक नाव चलाने वाला होता है वह कहता है कि “हे भगवान मैं 15 दिनों के लिए दूर समुद्री यात्रा पर जा रहा हूं, मुझे आशीर्वाद दीजिए ताकि मेरी यात्रा सफल हो” । तभी पीछे से Businessman पुलिस लेकर आ जाता है कि मेरे बाद यह नाव चलाने वाला इस मंदिर में आया है और इसी ने मेरा पर्स चुरा लिया है । पुलिस नाव चलाने वाले को पकड़ कर ले जा रही होती है । तभी भगवान की जगह खड़ा सेवक बोल पड़ता है और पूरी सच्चाई पुलिस को बताता है उस सेवक के बताए अनुसार पुलिस नाव चलाने वाले को छोड़कर उस गरीब आदमी को पकड़ कर जेल में बंद कर देती है ।

रात को जब भगवान आते हैं तो वह सेवक भगवान को सारा किस्सा खुशी-खुशी बताता है । भगवान गुस्से में कहते हैं तुमने किसी का काम बनाया नहीं बिगाड़ा है । वह व्यापारी गलत धंधे करता है, उस पर्स के गिरने से उसे कोई फर्क नहीं पड़ने वाला था । इससे उसके पाप और कम ही होते क्योंकि वह पर एक गरीब आदमी को मिला था जो कि भूखा था । पर्स मिलने पर उसके बच्चे भूखे नहीं मरते, रही बात नाव चलाने वाले की तो वह जिस यात्रा पर जा रहा था, वहां पर तूफान आने वाला था अगर वह जेल में रहता तो जान बच जाती, उसकी पत्नी विधवा होने से बच जाती, तुमने सब गड़बड़ कर दी ।

हमारी जिंदगी में भी ऐसी बहुत सारी मुसीबतें आती है और हमें लगता है कि ऐसा मेरे साथ ही क्यों होता है । लेकिन इसके पीछे भगवान की प्लानिंग होती है जब भी कोई मुसीबत आए तो आप परेशान मत होना क्योंकि भगवान जो भी करते हैं अच्छे के लिए करते हैं ।

दोस्तों आपको ये कहानी “भगवान् की प्लानिंग । Motivational Story in Hindi” कैसे लगा। यदि आपको ये कहानी Motivational Story in Hindi” अच्छी लगी हो तो आप इसे अपने दोस्तों के साथ भी Share कर सकते हैं ।

NOTE ⇒ हमारा उद्देश्य ज्ञान को बांटना (share) है और यह काम हम अकेले नहीं कर सकते क्योंकि इस दुनिया का सारा ज्ञान हमारे पास नहीं है और हम भी आपकी तरह एक ही सामान्य व्यक्ति है जो दिन में खुली आँखों से सपने देखते है और उन्हें पूरा करने के लिए कोशिश करते रहते है | दोस्तों ज्ञान बांटने से बढ़ता है इसलिए आप भी HINDI के इस अनमोल मंच से जुड़े एंव अपने ज्ञान को हमारे साथ share करें, हम आपके द्वारा भेजे गए सभी अच्छे लेखों को Website पर publish करेंगे । आप अपने लेख हमें Whattsapp Number ( 85569-78342 ) पर भेज सकते है

Spread the love by Sharing

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *